X

क्या खरीदें

गोल्ड ईटीएफ से गोल्ड मोनेटिसेशन प्लान, यहां वो सब कुछ है जिसे आपको जानने की जरुरत है।

गोल्ड सेविंग फन्ड्स क्या है?
गोल्ड सेविंग फन्ड्स को फन्ड्स ऑफ फन्ड्स भी कहा जाता है, ये वास्तव में वे म्युच्युअल फन्ड्स होते हैं जो गोल्ड ईटीएफ में और बाकी शॉर्ट टर्म फन्ड्स में इन्वेस्ट किए जाते हैं।

यह कैसे काम करता है?
  • पहुंच:
    आपके पास डीमैट अकाउन्ट न होने पर भी आप गोल्ड सेविंग फन्ड में इन्वेस्ट कर सकते हैं। डीमैट अकाउन्ट न होने पर भी आप इस फन्ड के लिये एक सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेन्ट प्लान (एस आय पी) शुरु कर सकते हैं। एस आई पी के द्वारा आप एक तय अमाउन्ट को रेग्युलर तरीके से, लगभग हर महीने इस फन्ड में डाल सकते हैं। गोल्ड सेविंग्स की मदद से गोल्ड इन्वेस्टमेन्ट सभी व्यक्तियों की पहुँच में हो जाता है क्योंकि आप एक छोटी क्वान्टिटी का गोल्ड म्युच्युअल फन्ड के युनिट के रुप में ले सकते हैं और एक युनिट एक ग्राम के बराबर होता है। आप कम से कम रु. 1000 तक के इन्वेस्टमेन्ट से भी शुरु कर सकते हैं।
  • प्रोसेसिंग फीस और कीमत:
    यदि आप गोल्ड सेविंग फन्ड लेते हैं, तो यह ध्यान रखिये कि आपको दो प्रकार के चार्ज देने होते हैं। एक चार्च असेट मैनेजमेन्ट कंपनी (ए एम सी) को देना होता है जो आपके लिये गोल्ड सेविंग फन्ड का मैनेजमेन्ट करती है और दूसरा चार्ज ईटीएफ का जो मूल्य होता है। यह फीस दर साल 1.5% से 2% के बीच हो सकती है। अगर आपको इस बात का डाउट है कि यह प्रोडक्ट आपको सूट करेगा या नही, तो आपको अपने फाइनेंशियल एडवाइज़र से सलाह लेनी चाहिये। वे इन्वेस्टर जिन्हें फिज़िकल गोल्ड को स्टोर करने के लिए किसी भी प्रकार का खर्चा और परेशानी नहीं चाहिए, उनके लिए यह इन्वेस्टमेन्ट सबसे बेहतर है।
क्या यह मेरे लिये है?
इसमें इन्वेस्ट करने के फायदे:

  • आपके पास डीमैट अकाउन्ट न होने पर भी आप गोल्ड सेविंग फन्ड की युनिट्स को खरीद व बेच सकते हैं।
  • ज़रुरत पड़ने पर आसानी से लिक्विडेट करने की सुविधा।
  • फिजिकल गोल्ड के स्टोरेज और इन्श्योरंस में होने वाले खर्चे से कम लागत।
  • आप एस आई पी के द्वारा रु. 1000 जैसी कम रकम से भी इसे शुरु कर सकते हैं।
  • जो गोल्ड की प्राइज़ आप अपने फण्ड में देते हैं वो एवरेज हो के कम हो जाती है क्योंकि आप हर महीने गोल्ड की प्राईज़ में इन्वेस्ट कर रहे हैं।
  • पोर्टफोलियो होल्डिंग को हर महीने डिस्क्लोज़ किया जाता है और रोज़ाना एन ए वी डिक्लियर की जाती है।
  • आप बिना किसी समस्या के फन्ड्स की युनिट्स को खरीद व बेच सकते हैं।
  • आपको एक साल के बाद लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स के अंतर्गत टैक्सेशन बेनिफिट्स प्राप्त होंगे।
अगर आपको इस बात का डाउट है कि यह प्रोडक्ट आपको सूट करेगा या नही, तो आपको अपने फाइनेंशियल एडवाइज़र से सलाह लेनी चाहिये। और साथ ही म्युच्युअल फन्ड इन्वेस्टमेन्ट्स मार्केट रिस्क के अधीन होते हैं, इन्वेस्टमेन्ट करने से पहले स्कीम से संबंधित डॉक्युमेन्ट्स को ध्यान से पढ़ें।

इन्वेस्ट कैसे करें?
आप गोल्ड सेविंग्स की युनिट्स की खरीदी और बिक्री असेट मैनेजमेन्ट कंपनियों की ब्रान्चेस में कर सकते हैं। इस प्रोडक्ट को कुछ एन बी एफ सी कंपनियों और बैंकों द्वारा भी बेचा जाता है और जिसकी रकम को आप सीधा अपने बैंक अकाउन्ट में से डेबिट करने का चुनाव भी सकते हैं।

इसे रिडीम कैसे करें?
आप इन युनिट्स को कैश में बदल सकते हैं और अपने अकाउन्ट में इसका डेबिट तीन कार्य दिवसों में, आपकी अवधि पूरी होने पर पा सकते हैं। यदि आप समय से पहले म्युच्युअल फन्ड को ख़त्म करते हैं, तो आपको इसके लिये एक्ज़िट फीस देनी होती है।

हमें फॉलो करें

चर्चा में

क्या गोल्ड खरीदना सुरक्षित प्रक्रिया

गोल्ड में इन्वेस्ट करना – आपके पूर्वजों ने भी किया था?

सम्मान, सामाजिक स्थिति और प्रतिष्ठा - सोना ख़रीदने के सामाजिक लाभ

गोल्ड प्राईज

क्या आप जानते हैं?

आपको यह भी पसंद आ सकता हैं