X

क्या खरीदें

गोल्ड ईटीएफ से गोल्ड मोनेटिसेशन प्लान, यहां वो सब कुछ है जिसे आपको जानने की जरुरत है।

गोल्ड एक्युम्युलेशन प्लान क्या है?
गोल्ड एक्युम्युलेशन प्लान एक ऐसी स्कीम है जिसमे आप नियमित मन्थली किश्तो में गोल्ड में इन्वेस्ट कर सकते हैं। इसमें आप केवल रु. 1000 पर मन्थ जितने कम से कम मन्थली सब्स्क्रिप्शन में एक वर्ष से पन्द्रह वर्ष के टाईम पीरियड को चुनकर उसमें फिज़िकल गोल्ड जमा कर सकते हैं।

यह कैसे काम करती है?
  • तरीका:
    इस स्कीम में डेली एवरेज प्राईसिंग मैथडोलॉजी का उपयोग किया जाता है जिसमें मन्थली सब्स्क्रिप्शन को एक समान भागों में बांटकर खरीददार के लिये महीने में बीस बिजनेस डेज़ के दौरान गोल्ड ग्राम्स खरीदे जाते हैं। गोल्ड का संग्रह या एक्युम्युलेशन उसी दिन से शुरु हो जाता है जिस दिन से फन्ड क्रेडिट होते हैं, साथ ही इस स्कीम में एक यूनीक कस्टमर आई डी भी दी जाती है जिसकी मदद से आप डेली और मन्थली बेसिस पर अपना स्टेटमेन्ट देख सकते हैं, जिसमे जमा हुए गोल्ड की संख्या और उसकी पर्चेस प्राईस दी होती है। इससे गोल्ड में इन्वेस्ट करना स्पष्ट और सरल हो जाता है।
  • सुरक्षा:
    गोल्ड एक्युम्युलेशन स्कीम्स पूरी तरह से फिज़िकल गोल्ड के लेन-देन पर आधारित होती हैं और इसे वोल्टिंग एजेन्सीज़ के पास रखा जाता है। इसके आगे और अधिक स्पष्टता बनाए रखने और इन्वेस्टर्स को सुरक्षा का एहसास करवाने के लिये, इस फिज़िकल गोल्ड को एक स्वतंत्र ट्रस्टी द्वारा कन्ट्रोल किया जाता है।
  • अवधि और फीस:
    वर्तमान में इस स्कीम की अवधि कम से कम एक वर्ष और अधिकतम पन्द्रह वर्ष रखी गई है। प्रति माह कम से कम रु 1000 इन्वेस्ट करना जरुरी है। प्रत्येक सब्सक्रिप्शन पर 1.5% का एडमिनिस्ट्रेटिव चार्ज लगाया जाता है जिसे डेली गोल्ड प्राईज में जोड़ दिया जाता है । जब गोल्ड ग्राम्स चार डेसिमल पॉईन्ट्स के लगभग हो जाते हैं तब उन्हें अकाउन्ट में क्रेडिट कर दिया जाता है।
क्या यह मेरे लिये है?
गोल्ड एक्युम्युलेशन प्लान में आपको काफी राहत मिलती है और लंबे समय के फ़ायदे भी, इनमें से कुछ नीचे बताये गए हैं:डिसिप्लिन्ड गोल्ड एक्युम्युलेशन: वे सभी जिनके लिए गोल्ड को बचा कर रखना मुश्किल होता है या एकदम बडी पर्चेस करना मुश्किल होता है, उनके लिए यह एक डिसिप्लिन्ड एक्युम्युलेशन टेकनीक है जिसमें आप गोल्ड ग्राम्स को अपने छोटे पर नियमित सब्सक्रिप्शन के माध्यम से जमा कर सकते हैं।

  • कॉस्ट एवरेजिंग मेथडोलॉजी: यदि आप एक अनुभवी इन्वेस्टर नहीं हैं, तो आप रोज़ाना मार्केट पर ध्यान नही देंगे। आपके सभी सब्सक्रिप्शन को 20 डेली पर्चेसेज़ में बांट दिया जाता है जिससे मार्केट टाईमिंग की रिस्क कम हो जाती है। आप गोल्ड कम पर ज़्यादा बार खरीदते हैं जिससे प्राइस में आया अंतर बराबर हो जाता है और इस तरह आप नियमित गोल्ड खरीदते रहते हैं चाहे मार्केट ऊपर जाये या नीचे।
  • विशेष इवेन्ट्स की प्लानिंग: गोल्ड एक्युम्युलेशन प्लान की मदद से आप भविष्य में किसी विशेष इवेन्ट के लिये की जाने वाली बडी पर्चेस की तैयारी कर सकते हैं जैसे शादी, एनीवर्सरी, जन्मदिन या आपके परिवार में कोई न्यू एडिशन।
  • ज़ीरो डिफॉल्ट रिस्क: आर बी आई के सख्त़ नियमों के अनुसार कस्टमर के फन्ड्स जिस बैंक अकाउन्ट में डिपॉज़िट किये जाते हैं उसे सँभालने के लिए वहां पर एक स्वतंत्र ट्रस्टी का होना ज़रुरी है, ताकि वो एजेन्सी जिसने वोल्ट्स को इन्श्योर किया है, उसके द्वारा गोल्ड की सुरक्षित देखभाल की गारंटी रहे और कस्टमर्स तक गोल्ड पहुँचाने की भी गारंटी रहे। इससे आपको एक इन्वेस्टर के रुप में ज़ीरो डिफॉल्ट रिस्क स्ट्रक्चर मिलता है।
  • निश्चित प्योरिटी: आज के ज़माने में गोल्ड की प्योरिटी मायने रखती है। इस प्लान में आपको 24 कैरेट गोल्ड ही मिलता है जो कि 995 या अधिक फाईननेस के साथ होता है और जिसे चार डेसिमल्स तक की मात्रा में कस्टमर के अकाउन्ट में क्रेडिट किया जाता है।
  • फ्लेक्सिबिलिटी: एक इन्वेस्टर होने के नाते आप अपने अक्युम्युलेटेड गोल्ड ग्राम्स को फिज़िकली अनेक प्रकार से प्राप्त कर सकते हैं जैसे क्वाइंस और/या बार्स या ज्वेलरी जो कि नॉन बैंकिंग फायनेन्स कंपनी के विविध आउटलेट्स पर उपलब्ध है।
इसे रिडीम कैसे किया जाए?
इसके मैच्योर होने पर आप अपने यूनीक कस्टमर आई डी के ज़रिये मैच्योरिटी एडवाइस जनरेट कर सकते हैं जिससे आपके एक्युमलेटेड ग्राम्स आपको पता चल सकेंगे। आपको यह भी बताया जाएगा कि 0.5 ग्राम के आस पास पहुंचने के लिये आपको कितना भुगतान करना है, साथ ही अन्य भुगतान जैसे मेकिंग चार्जेज़, डेलिवरी चार्जेज़ व अन्य कर व प्रावधान किस प्रकार लागु होंगे। एक बार आपने यह बता दिया कि रिडीम होने वाला गोल्ड आपको किस रूप में चाहिए (कॉईन या ज्वेलरी) और सारे पेमेन्ट्स कर दिये, तो आप किसी भी लोकल फुलफिलमेन्ट सेंटर पर जाकर अपना गोल्ड ले सकते हैं अथवा कुछ कॉर्पोरेट कंपनियों द्वारा दी जाने वाली होम डिलेवरी सेवा भी ले सकते हैं।

कहां खरीदा जाए?
कुछ कॉर्पोरेट कंपनियां और एन बी एफ सी (नॉन बैंकिंग फायनेन्स कंपनियां) इस योजना को बेचती हैं।

हमें फॉलो करें

चर्चा में

अपने भविष्य को मंहगाई से बचाने के लिए सोने में निवेश करें

सम्मान, सामाजिक स्थिति और प्रतिष्ठा - सोना ख़रीदने के सामाजिक लाभ

क्या गोल्ड खरीदना सुरक्षित प्रक्रिया

गोल्ड प्राईज

क्या आप जानते हैं?

आपको यह भी पसंद आ सकता हैं